आईआईटी बीएचयू की छात्रा से दरिंदगी करने वाले गिरफ्तार, इस वजह से हाथ डालने से बचती रही पुलिस

आईआईटी बीएचयू की छात्रा से दरिंदगी करने वाले गिरफ्तार, इस वजह से हाथ डालने से बचती रही पुलिस

31 Dec 2023 |  247

वाराणसी।आईआईटी बीएचयू की छात्रा के साथ छेड़खानी और दरिंदगी करने वाले तीनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।गिरफ्तार आरोपियों की पहचान बृज एनक्लेव कॉलोनी सुंदरपुर का कुणाल पांडेय, जिवधीपुर बजरडीहा का आनंद उर्फ अभिषेक चौहान और सक्षम पटेल के रूप में हुई है।बीएचयू में हुई इस घटना के बाद कई दिनों तक युवकों की गिरफ्तारी के लिए विरोध हुआ था।-

सूत्रों के मुताबिक आईआईटी बीएचयू की छात्रा से गैंगरेप करने तीनों कौन हैं।इसके बारे में पुलिस और शिक्षण संस्थान को सात दिन में ही पता चल गया था। युवकों की प्रोफाइल मजबूत होने से इन पर हाथ डालने से बचा जाता रहा। संभवत: पुलिस को ऊपर से क्लियरेंस मिलने के बाद आज रविवार को तीनों युवक गिरफ्तार दिखाए गए। बताया जा रहा है कि आरोपी कुणाल पांडेय भाजपा से जुड़ा है और आईटी विभाग का महानगर संयोजक है और सक्षम पटेल भी महानगर आईटी संयोजक है।-

बता दें कि दो नंबर को आईआईटी सेकेंड ईयर की छात्रा अपने न्यू गर्ल्स हॉस्टल से रात में लगभग डेढ़ बजे वॉक पर निकली थी।तभी रास्ते में मिले एक साथी के साथ कुछ दूर आगे बढ़ी थी कि आईआईटी कैंपस में बुलेट से आए तीन लड़कों ने गन प्वाइंट पर छात्रा के कपड़े उतरवाए थे। छात्रा के कपड़े उतरवाकर आरोपियों ने इसका वीडियो भी बनाया था।इस पूरी वारदात के दौरान छात्रा लगभग 10-15 मिनट तक मनचलों के बीच फंसी रही,जिसके बाद पुलिस ने छात्रा की शिकायत पर लंका थाने में आईपीसी की धारा 354(ख), 506 और 66 आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया।वहीं, छात्र-छात्रा लगातार आईआईटी बीएचयू कैंपस में धरना-प्रर्दशन करते रहे।बाद में ये प्रर्दशन सड़कों पर आ गया।आईआईटी बीएचयू में छात्रा के साथ हुई छेड़छाड़ की घटना में पुलिस ने सामूहिक दुष्कर्म (IPC 376-D) और इलेक्ट्रॉनिक साधनों के जरिए यौन उत्पीड़न (IPC 509) करने से संबंधित धाराएं बढ़ा दी थी।ये दोनों धाराएं पीड़िता के बयान के आधार पर बढ़ाई गई हैं।छात्रा का कलमबंद बयान पुलिस के अलावा मजिस्ट्रेट के सामने भी दर्ज हो चुका है।-

ट्रेंडिंग