पीएम मोदी आध्यात्मिक नगरी काशी में करेंगे नारी शक्ति संवाद,कार्यक्रम में नजर आएगी संस्कृति की झलक

पीएम मोदी आध्यात्मिक नगरी काशी में करेंगे नारी शक्ति संवाद,कार्यक्रम में नजर आएगी संस्कृति की झलक

21 May 2024 |  64

 

वाराणसी।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आध्यात्मिक नगरी काशी में महिला मतदाताओं से 21 मई को संवाद करेंगे।महिला वोटरों के लिए नारी शक्ति संवाद में पीएम महिलाओं के लिए केंद्र की योजनाओं और महिला सशक्तिकरण मुद्दे पर संबोधित करेंगे। 25 हज़ार महिलाएं इस कार्यक्रम में शामिल होंगी।इसमें अलग-अलग वर्ग की महिलाएं शामिल होंगी। 

 

बता दें कि काशी से तीसरी बार नामांकन दाखिल करने के बाद पीएम दूसरी अपने संसदीय क्षेत्र पहुंचने वाले हैं।आध्यात्मिक नगरी काशी के सम्पूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय में आयोजित इस कार्यक्रम की जिम्मेदारी भाजपा महिला मोर्चा ने संभाली है।अपनी तरह के अलग इस कार्यक्रम के ज़रिए आध्यात्मिक नगरी काशी से नारी शक्ति का संदेश पूरे भारत में जाएगा।इसमें सभी जिम्मेदारी महिला मोर्चा की कार्यकर्ताओं ने निभाई है।

 

पीएम मोदी लोकसभा चुनाव का नामांकन दाखिल करने के बाद एक सप्ताह के अंतराल में अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी आ रहे हैं।वाराणसी के 1908 बूथों में से 1800 बूथो की महिलाओं को इसमें शामिल करने का लक्ष्य रखा गया है। पीएम समाज के विभिन्न वर्गों की महिलाओं से संवाद करेंगे।

 

पीएम मोदी के रोड शो में महिलाओं ने अहम भूमिका निभाई थी।पीएम ने इन महिलाओं के प्रति आभार जताने के लिए इनसे मिलने की इच्छा जाहिर की थी।पीएम महिलाओं से सीधा संवाद करेंगे।इसमें संचालन,मंच,व्यवस्था समेत संपूर्ण दायित्व महिलाएं ही संभालेंगी।पीएम अपने संसदीय क्षेत्र में विशेष काम कर रहीं महिलाओं, स्वयं सहायता समूह की खास महिलाओं और भाजपा की महिला पदाधिकारियों से मुलाकात करेंगे।नारी शक्ति संवाद कार्यक्रम में लघु भारत का स्वरूप भी देखने को मिलेगा।कार्यक्रम में पीएम के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी रहेंगे।कार्यक्रम में सिर्फ महिलाएं ही नजर आएंगी।

 

नारी शक्ति संवाद कार्यक्रम में पीएम मोदी का स्वागत करने, मंच संचालन करने, व्यवस्था सम्भालने समेत सभी दायित्व महिलाओं के कंधे पर ही रहेगी।कार्यक्रम में आध्यात्मिक नगरी की अनूठी संस्कृति और लघु भारत का रूप नजर आएगा। मारवाड़ी, पंजाबी, मराठी, बंगाली और दक्षिण भारतीय प्रदेशों के मूल निवासी और काशी में रहने वाली महिलाएं अपने अलग-अलग परिधान में नजर आएंगी। इनमें डॉक्टर, शिक्षिका, गृहिणी, अधिवक्ता, खिलाड़ी, व्यापारी समेत सभी वर्ग की महिलाएं भी शामिल रहेंगी।

ट्रेंडिंग