जिले के दो गांवों में फैला डायरिया,करीब 50 से ज्यादा लोग बीमार,स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप

जिले के दो गांवों में फैला डायरिया,करीब 50 से ज्यादा लोग बीमार,स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप

11 Jun 2024 |  47

 

पूर्वांचल सूर्य प्रतिनिधि,पाकुड़।जिले के आमड़ापाड़ा और लिट्टीपाड़ा प्रखंड के दो गांवों में डायरिया फैल गया है। अमड़ापाड़ा प्रखण्ड के बड़ा बास्को गांव में डायरिया से करीब 32 लोग बीमार हैं तो वहीं लिट्टीपाड़ा के छोटा चटकम के पहाड़िया टोला की दो बच्चियों समेत छह लोग पीड़ित हैं। सूचना के बाद से विभाग भी पीड़ितों के इलाज में जुट गया है। विभाग की टीम इन गांवों में कैंप भी कर रही है, ताकि पीड़ितों का उचित इलाज हो सके।स्वास्थ्यकर्मी कड़ी मेहनत कर रहे हैं, स्वास्थ्य विभाग द्वारा वृहद स्तर पर मरीजों का इलाज कर उन्हें आवश्यक दवाइयां दी जा रही है। स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है। स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव में ही कैम्प कर रही है, ताकि मरीजों को बेहतर सुविधा मिल सके। 

 

बड़ा बास्को गांव में डायरिया फैलने की सूचना पर स्वास्थ्य विभाग की टीम को तत्काल गांव भेजा गया और मामले की गंभीरता को देखते हुए सिविल सर्जन डॉ मंटू टेकरीवाल भी बड़ा बास्को गांव पहुंचे और स्वास्थ्यकर्मियों को मरीजों के बेहतर इलाज का निर्देश दिया। बड़ा बास्को गांव में 32 लोगों की तबीयत खराब है।इसमें से 10 लोगों को बेहतर इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है।शेष का इलाज गांव में ही एक साथ खटिया पर स्लाइन लगाकर किया जा रहा है। मरीजों के बेहतर इलाज के लिए स्वास्थ्य टीम गठित की गयी है।

 

लिट्टीपाड़ा प्रखण्ड के छोटा चटकम गांव के पहाड़िया टोला की दोनों बच्चियों समेत सभी छह मरीजों को इलाज के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लिट्टीपाड़ा में भर्ती कराया गया है। बताया जा रहा है कि साफ पानी पीने की सुविधा नहीं होने के कारण इन दोनों गांवों के लोग झरने का पानी ही पी रहे थे, इस कारण ये लोग डायरिया की चपेट में आ गये हैं। गांव वालों का कहना है कि गांव में एक भी चापाकल नहीं है। पेयजल के लिए बहुत भटकना पड़ता है।वहीं डायरिया के प्रकोप को देखते हुए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, फतेहपुर के डॉक्टर, एएनएम, एमपीडब्ल्यू समेत सभी स्वास्थ्यकर्मियों की छुट्टियां रद्द कर दी गयी हैं। बताया जा रहा है कि साफ पानी पीने की सुविधा नहीं होने के कारण इन दोनों गांवों के लोग झरने का पानी ही पी रहे थे।इस कारण ये लोग डायरिया की चपेट में आ गये हैं।बड़ा बास्को गांव में डायरिया फैलने की सूचना पर स्वास्थ्य विभाग की टीम को तत्काल गांव भेजी गयी।मामले की गंभीरता को देखते हुए सिविल सर्जन डॉ मंटू टेकरीवाल भी बड़ा बास्को गांव पहुंचे और स्वास्थ्यकर्मियों को मरीजों के बेहतर इलाज का निर्देश दिया।

 

प्राप्त जानकारी के अनुसार पाकुड़ जिले के बड़ा बास्को गांव में 25 लोगों की तबीयत खराब है।इसमें से 10 लोगों को बेहतर इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है।शेष का इलाज गांव में ही एक साथ खटिया पर स्लाइन लगाकर किया जा रहा है। मरीजों के बेहतर इलाज के लिए स्वास्थ्य टीम गठित की गयी है, जिसमें डॉक्टर मोहम्मद खालिद अहमद, डॉक्टर नसीम अहमद, डॉक्टर प्रमोद कुमार, ड्रेसर इशामुद्दीन शेख, सीएचओ समय सिंह मीणा, एएनएम उषा किस्कू और एएनएम ममता सिन्हा सहित 25 कर्मियों को लगाया गया है।

ट्रेंडिंग